Thursday 14 March 2013

एक दोहा....

अधरों से जब दूर हों, कैसे आए चैन ।   
मदिरा के प्याले भरे, मीत तुम्हारे नैन ।।

No comments: