Sunday 3 June 2012

आज का मुक्‍तक

नफ़रतों को हवन हम करें ।
देश को फिर चमन हम करें ।
जो मिटे देश हित के लिए
आज उनको नमन हम करें ।

3 comments:

nilesh mathur said...

वाह! बहुत सुंदर।

om sapra said...

bhai manoj abodh ji
namastey,
Gud quotes,
bahut sunder baat kahi hai aap ne, badhai,
-om sapra,
delhi-9
email: omsapra@gmail.com

मनोज अबोध said...

धन्‍यवाद नीलेश जी और ओम सपरा जी